बॉलीवुड की इस एक्ट्रेस के साथ ठगी करने वाले आरोपियों को पुलिस ने दबोचा

Image result for ईशा शरवानी

ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली एनआरआई बॉलिवुड एक्ट्रेस ईशा शरवानी से 2.75 लाख रुपये की ठगी करने वाले तीन लोगों को साइबर क्राइम यूनिट ने बुधवार देर रात गिरफ्तार किया है। ठगों ने खुद को आस्ट्रेलियन टैक्स अधिकारी बन इस वारदात को अंजाम दिया था। उन्होंने ईशा के अकाउंटेंट का नंबर भी हैक कर लिया था। इस पूरी घटना को फर्जी कॉल सेंटर के जरिये अंजाम दिया गया। पकड़े गये ठगों में एक वेस्टर्न यूनियन मनी ट्रांसफर का कर्मचारी भी शामिल है। अब तक ये लोग सैंकड़ों लोगों से ठगी कर चुके थे।

इनके निशाने पर ज्यादातर ऑस्ट्रेलियन नागरिक होते थे। पुलिस ने इनके खातों में जमा एक करोड़ से अधिक की रकम को फ्रीज करवाया है।गुरुवार को डीसीपी अन्येष रॉय ने बताया कि पकड़े गये तीनों आरोपितों की पहचान भानुज बेरी, पुनीत चड्ढा और रिषभ खन्ना के रूप में हुई हैं। ईशा शरवानी पर्थ,ऑस्ट्रेलिया में रहती है। शिकायत में ईशा ने कहा कि उनके पास कुछ दिन पहले जिस नंबर से फोन कॉल आया था वह केनबरा का था। उन्हें बताया गया था कि आपके टैक्स रिटर्न में भारी गड़बड़ी है। उनकी गिरफ्तारी का वारंट जारी हुआ है।

उन्होंने ईशा के अकाउंटेंट का नंबर भी हैक कर लिया था। अकाउंटेंट बनकर भी ईशा से बात की गई। इस पर ईशा निश्चित हो गई कि उनके अकाउंटेंट से टैक्स भरने में गलती हुई है। ठगों ने वेस्टर्न यूनियन और आरआईए मनी ट्रांसफर के जरिये ईशा से 5700 डॉलर ट्रांसफर करवाये थे। दोबारा फोन आया तो ईशा को शक हो गया और उसने ऑस्ट्रेलिया की पुलिस को इसकी सूचना दी। बाद में शिकायत दिल्ली पुलिस से की गई थी। एसीपी आदित्य गौतम की देखरेख में पुलिस टीम ने जांच शुरू की और तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया। सबसे पहले वेस्टर्न यूनियन का रजिस्टर्ड कर्मचारी भानुज बेरी पकड़ा गया।

पुलिस के अनुसार, पुनीत चड्ढा एमबीए और भानुज बीकॉम डिग्री धारक है। रिषभ बीबीए फाइनल ईयर स्टूडेंट है। इनका विकासपुरी में कॉल सेंटर है। पुनीत कॉल सेंटर का मालिक है।

Back to top button