चैनल गेट में उतरे करंट से एक ही परिवार के तीन की मौत, चौथे की हालत गंभीर

 

-घर में मचा कोहराम तो गांव में पसरा मातम गोरखपुर । गुलरिहा थाना क्षेत्र के जैनपुर गांव के सियाराम टोला में बीती रात एक ही परिवार के चार लोग लोहे के चैनल गेट में उतरे करंट के चपेट में आने से बुरी तरह झुलस गये। स्थानीय लोग की मदद से लोगों को इलाज के लिए मेडिकल कालेज ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने शंभू, कुसुम व अजय को मृत घोषित कर दिया तथा चौथे घायल 13 वर्षीय प्रतिमा का भी हालत गंभीर है, जिसका मेडिकल कालेज में इलाज चल रहा है ।

गुलरिहा थाना क्षेत्र के ग्राम सभा जैनपुर के सियाराम टोला निवासी शंभू निषाद (52) का दसवीं में पढ़ने वाला छोटा बेटा अजय (16) बुधवार की देर शाम घर से निकल रहा था। इसी दौरान मुख्य दरवाजे के ऊपर कटे तार से करंट आ गया था जिसकी चपेट में आने से वह चिल्लाने लगा। उसे चिपका देख शंभू निषाद दौड़े और बिजली से चिपक गए।

फिर पत्नी कुसुम देवी (52) दोनों को बचाने के चक्कर में करंट की चपेट में आ गईं जिससे वह भी गंभीर रूप से घायल हो गई। उन्हें बचाने में बेटी प्रतिभा (22) और बेटा उमेश (20) भी झुलस गए। शोर सुनकर आए आसपास के लोगों ने मेन स्विच से बिजली बंद की फिर पुलिस को घटना की जानकारी दी। मेडिकल कॉलेज पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने शंभू, अजय और कुसुम को मृत घोषित कर दिया। प्रतिभा का उपचार चल रहा है और उमेश मामूली रूप से जख्मी हुआ था।

पांच भाई बहनों में तीसरे नंबर का था अजय

शंभू के तीन बेटे और दो बेटी हैं। अजय तीसरे नंबर पर था। बड़ी बेटी प्रतिभा भी जख्मी है। उमेश, अखिलेश और रीना का रो रोकर बुरा हाल है। हादसे के समय सभी अंदर के कमरे में मौजूद थे।

तार कटने की वजह से हुआ है हादसा

मुख्य गेट के पास से ही वायरिंग का तार गुजरा था। जो मामूली रूप से कटा था। उसी के वजह से गेट में करंट आ गया फिर हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई। मौत की खबर से आसपास के इलाके में भी मातम छा गया।

मेडिकल कॉलेज में रिश्तेदारों का जमावड़ा

हादसे की खबर पाते ही रिश्तेदार और शुभचिंतक मेडिकल कॉलेज पहुंच गए। मेडिकल कॉलेज में भीड़ एकत्र होने की वजह से पुलिस ने भी सतर्कता बढ़ा दी और शव को मोर्चरी में रखवा दिया है।

Back to top button